mgcub

आजादी का अमृत महोत्सव

महात्मा गाँधी केन्द्रीय विश्‍वविद्यालय, बिहार
ajazi ka amrit mahotsav

आजादी का अमृत महोत्सव के बारे में

देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूर्ण होने पर 75 सप्ताह पूर्व राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी जी की दांडी यात्रा की वर्षगांठ के अवसर पर 12 मार्च 2021 को देश के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने साबरमती आश्रम से पदयात्रा को हरी झंडी दिखाकर आजादी के अमृत महोत्सव का श्रीगणेश किया, जिसमें देश की अदम्य भावना के उत्सव व सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

देश की 75वीं वर्षगांठ का मतलब 75 वर्ष पर विचार, 75 वर्ष की उपलब्धियां, 75 वर्ष में एक्शन और 75 वर्ष पर संकल्प शामिल हैं, जो स्वतंत्र भारत के सपनों को साकार करने के लिए आगे बढ़ने की प्रेरणा प्रदान करते हैं।

आजादी का अमृत महोत्सव के उद्देश:-
  • स्वाधीनता आन्दोलन के सम्बन्ध में प्रचलित सहजबोध को परिवर्तित करना
  • अलक्षित नायक, अलक्षित आन्दोलन, अलक्षित संगठनों और अलक्षित स्थलों को केंद्र में लाना
  • स्वतंत्रता आन्दोलन को भारत के इतिहास की अविच्छिन्न परम्परा में स्थापित करना
  • स्वातंत्र्योत्तर उपलब्धियों-भारत की संकल्प शक्ति, जिजीविषा व आत्मनिर्भरता का मूल्यांकन
  • इतिहास का पुनर्लेखन
  • स्वत्व का जागरण
Important Links
Updated on: 08 Spet 2022 02:30 PM
Number Visitors: 1286922